Thursday , October 22 2020
Breaking News
Home / Khari Khari / लॉकडाउन में काम ठप होने के चलते अपराध की ओर बढ़ाया कदम, 11 वर्षीय बच्चे का किया अपहरण

लॉकडाउन में काम ठप होने के चलते अपराध की ओर बढ़ाया कदम, 11 वर्षीय बच्चे का किया अपहरण

Khari Khari News, Faridabad, 18 October, 2020

देश में कोरोना महामारी के चलते लगाए गए लॉकडाउन की वजह से कई लोगों के काम-धंधे पर खासा असर पड़ा है। वहीं बेरोजगारी को चलते लोग अब अपराध की ओर कदम बढ़ाने लगे है। ताजा मामला फरीदाबाद से सामने आया है जहां दो लोगों ने मिलकर 11 वर्षीय बच्चे का अपहरण कर लिया और परिजनों से फिरौती की मांग की। पुलिस ने जब दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया और अपहरण करने के पीछे की वजह जानी तो आरोपियों ने बताया की लॉकडाउन में काम ठप होने की वजह से शॉर्टकट तरीके से पैसे कमाने के चक्कर में बच्चे को अगवाह करके फिरौती मांगने का प्लान बनाया।

फरीदाबाद थाना पल्ला की पुलिस टीम ने सीसीटीवी कैमरों की सहायता से 11 वर्षीय बच्चे का अपहरण करने वाले 2 आरोपियों अमन और सिद्धार्थ उर्फ सोनू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उपायुक्त मुकेश मल्होत्रा ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी अमन एसी ठीक करने का कार्य करता था तथा आरोपी सोनू कुतों को ट्रेनिंग देने का कार्य करता था। दोनों आरोपी बचपन से दोस्त थे। लॉकडाउन में काम ठप होने की वजह से दोनों आरोपियों ने शॉर्टकट से पैसे कमाने के चक्कर में बच्चे को अगवाह करके फिरौती मांगने का प्लान बनाया।

इसके लिए आरोपी सोनू ने अपने साथी अमन को बताया कि वह करीब 3 साल से फरीदाबाद सेक्टर 91 में रहने वाली एक महिला पूनम को जानता है जो कुत्तों को खरीदने व बेचने का कार्य करती है और वह कई बार उससे कुत्ते के छोटे बच्चे लेकर आता था। उसने बताया कि उस मैडम के पास बहुत पैसा है। उसका एक 11 वर्षीय लड़का है जिसको अगवाह करके वह फिरौती मांगेंगे।

योजना के मुताबिक दोनों आरोपी अपनी स्कूटी लेकर 13 अक्टूबर को शाम लगभग 6 बजे बच्चे को अगवाह करने की नियत से सेक्टर 91 में गए। वहां आरोपी सोनू पूनम के 11 वर्षीय बच्चे को अकेला पाकर उसे बहला फुसलाकर अपने साथ ले आया और दोनों उसे गाजीपुर के एक होटल में ले गए। अपने बच्चे को न पाकर पूनम ने इसकी शिकायत थाना पल्ला में करवाई।

शिकायत पर कार्यवाही करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया गया और थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सतीश कुमार ने टीम बनाकर मामले की त तीश शुरू कर दी। थाना पल्ला की पुलिस टीम ने मौके पर जाकर पूनम के घर के आस पास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो पूनम ने आरोपी सोनू को पहचान लिया और बताया कि इसे वह 3 साल से जानती है।

महिला ने आरोपी सोनू का मोबाइल नंबर पुलिस टीम को दिया जिसकी लोकेशन कल्याणपुरी, दिल्ली की मिली। आरोपी के घर का एड्रेस निकलवाकर जब उसके घर पर पता किया गया तो पता चला की वह 3 दिन से घर नहीं आया है। उसके घर वालों ने उसके दोस्त का नंबर पुलिस को दिया तो उसके दोस्त की मदद से पुलिस आरोपी सोनू को पकडऩे में कामयाब हुई। आरोपी सोनू ने पूछताछ करने पर बताया कि उनका 11 वर्षीय बच्चा गाजीपुर के एक होटल में है, वो बच्चे की माँ से फिरौती मांगने ही वाले थे कि पुलिस ने इससे पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया।

बच्चे को होटल से सकुशल बरामद करके उसकी मां के हवाले कर दिया गया और आरोपी सोनू से पूछताछ करके दूसरे आरोपी अमन को भी गिर तार कर लिया गया। आरोपी सोनू दिल्ली के कल्याणपुरी इलाके व आरोपी सोनू दिल्ली के गाजीपुर का रहने वाला है। दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमे वारदात में प्रयोग की गई स्कूटी बरामद की जाएगी।

About kharikharinews

Check Also

हरियाणा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने कोरोड़ो की धोखाधड़ी करने पर की बड़ी कार्रवाई, तीन राइस मिलों को किया सील

Khari Khari News, karnal, 22 October, 2020 हरियाणा में धोखाधड़ी के मामलों कम होने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *