Khari Khari News, 05 November, 2020

हरियाणा के सोनीपत जिले में जहरीली शराब पीने से शहर में तीन दिन में 27 लोगों की जान चली गई है। जिले की आधा दर्जन कॉलानियों के लोग जहरीली शराब की चपेट में आ गए है। बताया जा रहा है कि शराब पीने के बाद लोगों की तबीयत खराब हो गई, उल्टी शुरू हो गई और सांस लेने में तकलीफ होने लगी है। शुरुआती जांच में अवैध शराब का रैकेट सामने आया है।

एसपी रंधावा ने कहा कि बरोदा में उपचुनाव के चलते उन्हें देरी से इस मामले की सूचना मिली और सूचना मिलते ही उन्होंने कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने छापेमारी कर अवैध रूप से शराब बेचने का मामला पकड़ा है। एक घर में सोफे में रखी अवैध शराब मिली, जो खुली बोतल में बेची जा रही थी।

एसपी जश्नदीप रंधावा ने बताया कि श्मशान भूमि पहुंचे मृतकों की जानकारी ली जा रही है। चार मृतकों का पोस्टमार्टम कराया है। जांच के बाद पता चलेगा कि मौत जहरीली शराब से हुई या अन्य कारण से। अवैध शराब बेचने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की लापरवाही मिली तो उन पर कड़ी कार्रवाई होगी।

सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उपायुक्त श्याम लाल पूनिया ने हनुमान कॉलोनी निवासी युवक की मौत के बाद घर की जांच की तो देसी शराब की खाली बोतलें मिलीं। इससे पहले दो दिनों में 17 लोगों का अंतिम संस्कार हो चुका था।

मामले को लेकर विपक्ष ने खट्टर सरकार पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि ऐसी खबर है कि सोनीपत में 20 से अधिक लोगों की नकली शराब के कारण जान चली गई। प्रदेश में नकली शराब बनाने वाले गिरोह की सक्रियता किसकी शह पर बनी हुई है? मुख्यमंत्री खट्टर जी, इस मामले की तुरंत उच्च स्तरीय जांच करवाकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *